Wednesday, September 23, 2009

मुझे अच्छे लगते हैं शाहिद | रानी मुखर्जी

रानी मुखर्जी के करियर को लेकर आजकल तरह-तरह की बातें हो रही हैं। कुछ लोगों का कहना है कि दिल बोले हडि़प्पा रानी की आखिरी फिल्म है, तो कुछ लोग कह रहे हैं कि इस फिल्म से रानी ने वापसी की है। इस बारे में खुद रानी क्या सोचती हैं? जवाब में वे कहती हैं, पिछले कुछ वर्षो से मेरी हर फिल्म के प्रदर्शन के समय लोग यही कहते हैं, लेकिन मैं हर बार वापस आ जाती हूं। मेरी फिल्मों की असफलता का मतलब यह नहीं है कि मैं असफल हो गई। मैं अपनी हर फिल्म से एक कदम आगे बढ़ रही हूं।
रानी मुखर्जी अपनी बात जारी रखती हैं, सच कहूं, तो मैंने अपने करियर में इतने उतार-चढ़ाव देख लिए हैं कि अब मुझ पर इस तरह की बातों का कोई असर नहीं होता। मुझमें टैलेंट है और मैं इसी तरह काम करती रहूंगी। आजकल मैं अधिक फिल्में इसलिए नहीं कर रही हूं, क्योंकि मुझे कुछ अलग और चैलेंजिंग किरदार नहीं मिल रहे हैं। अब मैं उस मुकाम पर हूं, जहां मैं हर फिल्म का हिस्सा नहीं बन सकती।
यशराज बैनर की अनुराग सिंह निर्देशित फिल्म दिल बोले हडि़प्पा को लेकर रानी बेहद उत्साहित थी। इसके लिए उन्होंने कड़ी मेहनत भी की थी। रानी बताती हैं, पिछले साल अप्रैल में मैंने यह फिल्म साइन की। तभी पता चल गया था कि मुझे मेल क्रिकेटर का किरदार निभाना है। मैंने क्रिकेटर की तरह बॉडी बनाने के लिए योगा करना शुरू किया। साथ ही महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान अंजलि से क्रिकेट की ट्रेनिंग लेने लगी। यह ट्रेनिंग चौदह महीने तक चली। मैंने सात किलोग्राम अपना वजन घटाया और सही तरह से क्रिकेट खेलना भी सीख गई।
दिल बोले हडि़प्पा में रानी ने दो किरदार निभाए हैं। वे बताती हैं, इसमें मैं वीर और वीरा का किरदार निभा रही हूं। दोनों हैं एक ही और दोनों का लक्ष्य क्रिकेट खेलना है। मेरे अपोजिट शाहिद कपूर हैं। वे क्रिकेट के कोच बने हैं। मेरा सरदार का लुक क्रिकेटर हरभजन सिंह से प्रेरित है। दरअसल, मेरे लुक डिजाइनर माइक स्ट्रीन्गर लंदन के हैं। उन्हें मेरा लुक डिजाइन करने के लिए सरदार का फोटो चाहिए था, तो हमने हरभजन सिंह का फोटो भेज दिया। उन्होंने हरभजन सिंह को ध्यान में रखकर मेरा लुक डिजाइन किया है। मैंने इस बारे में हरभजन को बताया, तो वे बड़े खुश हुए। दिल बोले हडि़प्पा में रानी और शाहिद की जोड़ी पहली बार पर्दे पर आई है। उनके बारे में रानी कहती हैं, शाहिद सीरियस और फोकस्ड हैं। मुझे इस तरह के लोग अच्छे लगते हैं। फिल्म में हमारी जोड़ी बहुत अच्छी लग रही है। जब मुझे पता चला था कि शाहिद मेरे अपोजिट हैं, तो मैं बहुत खुश हुई। वे मेरे साथ अधिक मैच्योर दिख रहे हैं। उनके लिए यह फायदेमंद होगा। नए निर्देशक अनुराग सिंह के निर्देशन में काम के अनुभव के बारे में रानी कहती हैं, अनुराग बहुत प्यारे इंसान हैं। उन्होंने बढि़या फिल्म बनाई है, ऐसा फिल्म देखने वाले भी कहेंगे।
शादी के बारे में पूछने पर रानी गुस्सा हो जाती हैं। वे कहती हैं, शादी अभी नहीं करूंगी। पिछले तीन साल से लोग मेरी हर फिल्म की रिलीज के समय मेरी शादी होने की बात करते हैं। ऐसी बात कहने वाले लोग यह नहीं सोचते कि इसका मेरे करियर पर बुरा असर पड़ रहा है। जो निर्देशक मुझे साइन करने की योजना बनाते होंगे, वे शादी की बात सुनकर सोचते होंगे कि रानी शादी करने जा रही है, तो अपनी फिल्म के लिए किसी दूसरी ऐक्ट्रेस को कास्ट कर लेते हैं। जब मेरी शादी तय होगी, तब मैं चिल्ला-चिल्लाकर बताऊंगी। मैं मां-बाप की इकलौती बेटी हूं। वे लोग खुशी से यह बात दुनिया के साथ शेयर करेंगे। मैं प्राइवेसी पसंद करती हूं, इसका यह मतलब नहीं है कि मेरे बारे में लोग कुछ भी कहें। अब मैं ऐसी बातें बर्दाश्त नहीं करूंगी।
रानी मुखर्जी की ख्वाहिश ऐक्शन फिल्म करने की है। वे कहती हैं, मैंने हर जॉनर की फिल्में की हैं। सिर्फ ऐक्शन फिल्म नहीं कर सकी हूं। मेरे पास दो-तीन ऐक्शन फिल्मों की स्क्रिप्ट आई थीं, लेकिन वे मुझे पसंद नहीं आई। इस वक्त मैं फिट हूं और मुझे ऐक्शन फिल्म के लिए मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग लेनी पड़ी, तो मैं वह करूंगी। मैं नए निर्देशकों में विशाल भारद्वाज और इम्तियाज अली के साथ काम करना चाहती हूं।

-raghuvendra singh

2 comments:

SUNIL DOGRA जालि‍म said...

वाह जी... हमारा तो दिल ही तोड़ दिया z

समयचक्र - महेंद्र मिश्र said...

मुझे तो रानी मुखर्जी .....