Saturday, May 30, 2009

फिल्म निर्माताओं के आगे झुका बिग सिनेमा

मुंबई. सात प्रमुख मल्टीप्लेक्स में से बिग सिनेमा ने फिल्म निर्माताओं की सभी मांगों को सशर्त स्वीकार कर लिया है। अब जल्द ही बिग सिनेमा के सभी थिएटरों में फिल्में प्रदर्शित होंगी। शुक्रवार की शाम बिग पिक्चर्स के चेयरमैन अमित खन्ना ने यूनाइटेड प्रोड्यूसर्स एंड डिस्ट्रीब्यूटर्स फोरम (यूपीडीफ) के साथ बैठक में समझौते पर हस्ताक्षर किए। समझौते के तहत अब निर्माताओं एवं वितरकों को अधिकार होगा कि वे बिग सिनेमा के जिस थिएटर में चाहेंगे, अपनी फिल्में प्रदर्शित करेंगे और इच्छानुसार शो चलाएंगे। हिंदी एवं अंग्रेजी की फिल्मों के लाभांश में अब भेदभाव नहीं होगा। सभी फिल्मों के प्रदर्शन के पहले सप्ताह में 50 प्रतिशत, द्वितीय सप्ताह में 42.5, तृतीय सप्ताह में 37.5 और चौथे सप्ताह में 30 प्रतिशत लाभांश निर्माताओं एवं वितरकों को मिलेगा। जिस राज्य में मनोरंजन कर नहीं लागू होगा, वहां मल्टीप्लेक्स मालिक उसे नहीं लेंगे। निर्माताओं एवं वितरकों ने बिग सिनेमा के साथ समझौता होने के बाद सर्वप्रथम वाशु भगनानी की फिल्म कल किसने देखा प्रदर्शित करने का फैसला किया है।
-रघुवेन्द्र सिंह

2 comments:

Divine India said...

This Is a very good news for people like me.
thnx for the news

ajay kumar jha said...

chaliye chhutiyon se pehle chhaayee manhoosiyat to tootee....